अभिनंदन शमारोह के बाद प्रेस कांफ्रेस कर अश्विनी चौबे किये कई बड़े ऐलान

हितेश कुमार. पटना. आज स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे का अभिनन्दन समारोह कृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित किया गया था. इसके बाद बिहार प्रदेश कार्यालय...

ब्रेकिंग : बीएसईबी ने जारी किया इंटर कंपार्टमेंटल परीक्षा रिजल्ट, रिकॉर्ड तोड़…..
तेजस्वी को भाजपा नहीं, लालू प्रसाद ने अपने भ्रष्टाचार में साझी बना कर फंसाया-सुशील मोदी
सृजन घोटाले पर नीतीश के खिलाफ लालू के हल्ला बोल पर कांग्रेस ने दिया तगड़ा झटका….

ashwini chaubey

हितेश कुमार. पटना. आज स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे का अभिनन्दन समारोह कृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित किया गया था. इसके बाद बिहार प्रदेश कार्यालय में प्रेस को संबोधित करते हुए अश्विनी चौबे ने कहा कि मैं बिहार वासियों का शुक्र गुज़र हूँ, मैं तो मिट्टी हूँ उसे मूर्ति बनाने का काम कार्यकर्ताओं और जनता ने किया. प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का आभारी हूँ कि मुझे सेवा का मौका दिया. आपकी आस्था को कभी मिटने नहीं दूंगा. आपने ताजपोशी की है तो माथे पर कलंक नहीं लगने दूंगा.

ज़रूरत पड़ी तो अपना रक्त भी बह दूंगा. बिहार में कुछ काम किया उसका अनुभव है. अब केंद्र में काम करने का मौका मिला है तो कुछ अच्छा करके दिखाएंगे. जेपी नड्डा ने पिछले तीन साल में स्वास्थ्य के क्षेत्र में अलख जगाया है. उन्होंने आपने बड़ा भाई कहा है, आपको हर संभव सहयोग देंगे। 125 करोड़ जनता को स्वस्थ बनाएंगे. सवा सौ करोड़ देशवासी आरोग्य रहें। इसी सोच के साथ पद ग्रहण किया है. इस दौरान चौबे ने संस्कृत का श्लोक का भी उच्चारण किया और कहा कि सर्वे भवन्तु सुखिन: सर्वे संतु निरामय:…

स्वास्थ्य के बजट को बढ़ाने का प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा कि क्षिति जल पावक गगन समीरा, पंच तत्व मिली बने अहम् शरीरा… अश्विनी चौबे दिल्ली एम्स में लगातार बढ रही भीड़ के कारणों का समीक्षा किया तो ज्ञात हुआ कि एम्स में 40% से ज्यादा मरीज बिहार से आते हैं, तो हमने यह फैसला किया है कि बिहार के मरीजों का ज्यादा से ज्यादा बिमारियों का इलाज राज्य में ही हो सके। इसके लिए पटना एम्स को उस स्तर तक विकास किया जाएगा.

रोगियों की चिकित्सा के लिए बेहतर प्रयास करेंगे। देशभर में चार, वृद्ध के लिए वार्ड व चिकित्सा की व्यवस्था किया जाएगा. 2.79 करोड़ रुपये पीएमसीएच को दिया है. पटना एम्स को जल्द से जल्द विकास कर एक स्तर का ईलाज बिहार के जनता को देने का प्रयास करेंगे. नए एम्स के लिए राज्य सरकार से प्रस्ताव भेजने का अनुरोध भी किया. साथ ही यह भी कहा कि राज्य सरकार जहां भी नए एम्स का प्रस्ताव देगी वहीं बनेगा एम्स. इसके लिए 200 एकड़ जमींन की जरुरत है. जन चिकित्सा के लिए केंद्र सरकार से मंज़ूरी मिल चुकी है. पटना एम्स का 12 विभाग काम कर रहा है. 1 साल में कम से कम 3 गुना करने का लक्ष्य रखा गया है. रोगियों की संख्या, ज़मीन की दर आदि देख कर ही फैसला लिया जाएगा.

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0